Barrister Babu 12 October 2021 Written Update in Hindi : बटुक बोंदिता से नफरत करता है
Barrister Babu 12 October 2021 Written Update in Hindi

Barrister Babu 12 October 2021 Written Update in Hindi

बैरिस्टर बाबू 12 अक्टूबर 2021 एपिसोड : एपिसोड की शुरुआत अनिरुद्ध और बोंदिता के एक प्यारे नोक-झोक के साथ होती है। वह अपनी बैरिस्टर फीस मांगती है। वह कहता है कि मैं तुम्हें हर दिन अपने प्यार से फीस दूंगा।

वे हाथ पकड़ते हैं। संपूर्णा गठबंधन खोलने के लिए आती है। वह कहता है कि इसे हमेशा के लिए रहने दो। संपूर्णा इसे खोलती है। वह उसे सिंदूर लगाने के लिए कहती है। अनिरुद्ध बोंदिता को सिंदूर लगाते हैं। सब ताली बजाते हैं। अनिरुद्ध अपने चेहरे पर कुछ लगाते हैं।

वह उसका हाथ पकड़ता है। वे सभी नृत्य करते हैं। मेहमान आते हैं। त्रिलोचन आप सब यहाँ कहते हैं। वह आदमी कहता है कि हम ब्रह्मसमाज से बैरिस्टर बाबू का सम्मान करने आए हैं। त्रिलोचन कहते हैं ओह सच में। वह बिहारी से अनिरुद्ध को बुलाने के लिए कहता है। अनिरुद्ध और बोंदिता आते हैं।

त्रिलोचन उन्हें बोंदिता को आशीर्वाद देने के लिए कहता है। वह आदमी कहता है कि हमें तुमसे हाथ मिलाना चाहिए, तुम बस अब हमें आशीर्वाद दो, बैरिस्टर बाबू। बोंदिता को माला पहनाते हैं। त्रिलोचन चौंक जाता है। अनिरुद्ध और सभी ताली बजाते हैं। पुरुष उसे बैरिस्टर बाबू कहते हैं।

त्रिलोचन सोचता है कि वे अनिरुद्ध के बजाय बोंदिता का सम्मान क्यों कर रहे हैं, उसे शायद बुरा लग रहा है। अनिरुद्ध कहते हैं ब्रावो बोंदिता, मुझे तुम पर गर्व है। बोंदिता कहती हैं कि अनिरुद्ध ने मुझे काबिल बनाया है। वह कहता है कि नहीं, आपने इसे स्वयं अर्जित किया है, आप इस सम्मान के पात्र हैं। वह उसका नाम जपता है।

उन्हें फोन आता है। किसी लड़के को नहाते हुए दिखाया गया है। अनिरुद्ध जवाब देते हैं और पूछते हैं कि आप कौन हैं, बार-बार फोन क्यों कर रहे हैं। वह आदमी कहता है कि मैं तुम्हारा डरा हुआ चेहरा देखना चाहता हूं,

तुम बस चिल करो, जैसे मैं शॉवर के नीचे शांत बैठा हूं। अनिरुद्ध कहते हैं बस आओ, फिर मैं तुम्हें गले लगाऊंगा और तुम्हें डांटूंगा, मेरे भाई बटुक रॉय चौधरी। लड़का बटुक कहता है कि तुमने मुझे फिर से पहचान लिया है।

Barrister Babu 12 October 2021 Written Update in Hindi

बोंदिता यह सुनती है और कहती है, मेरे बचपन का दोस्त बटुक। वह बात करने जाती है। बटुक का कहना है कि मैं यहां इटली में खुश हूं। अनिरुद्ध कहते हैं कि तुम अकेले नहीं हो।

बटुक कहते हैं कि मैं बहुत खुश हूं कि तुम वापस आ गए। वह फोन लेती है और कहती है कि मैं तुम्हारी बाउड़ी बोंदिता हूं, तुम कब आ रहे हो, गांव वाले मुझे इज्जत दे रहे हैं, बताओ, तुम मुझसे मिलने कब आ रहे हो। वह फोन फेंक देता है। उनका कहना है कि फोन कट गया।

चंद्रचूड़ पुलिस वैन में रास्ते में है। वैन कुछ बाधाओं से रुकती है। चंद्रचूड़ के आदमी दरवाजे का ताला तोड़कर उसे साथ ले गए। वे चंद्रचूर को छिपने के लिए कहते हैं, वहां पुलिस कभी नहीं पहुंच सकती। चंद्रचूड़ मुस्कुराया। वह कहता है कि मैं यह जानता था, तुमने यह किया है, मुझे पानी दो। वह देखकर चौंक जाता है…..

Watch : Barrister Babu 11 October 2021 Written Update in hindi

अनिरुद्ध कहते हैं रुको, मैं कोशिश करूंगा। बोंदिता कहती है कि ठीक है, मैं उसे कैसे पहचानूंगा, वह कैसा दिखता है। अनिरुद्ध का कहना है कि हमने उसे बचाने के लिए उसे इटली में पढ़ने के लिए भेजा था। वह कहती है मुझे पता है, तुम मेरी फीस जानना चाहते थे। वह पूछता है कि आपकी फीस क्या है।

वह कहती है कि बटुक को वापस बुलाओ। वह कहता है लेकिन… वह परेशान चेहरा बनाती है। वह सोचता है कि जब आप बटुक से मिलेंगे तो आप चौंक जाएंगे, आपको यह पता नहीं चलेगा।

Barrister Babu 12 October 2021 Written Update in Hindi

वह कहता है कि मैं उसे फोन करूंगा। सोमनाथ आता है और कहता है कि चंद्रचूर को जेल ले जाया गया, वह अपने आदमियों की मदद से भाग गया है। अनिरुद्ध ने उसे चंद्रचूर को खोजने के लिए अपने आदमियों को भेजने के लिए कहा। चंद्रचूड़ त्रिलोचन को देखता है

चंद्रचूड़ पूछता है कि तुमने मुझे क्यों बचाया। त्रिलोचन का कहना है कि दस साल की सजा आपके लिए पर्याप्त नहीं है, बिनॉय ने अपना मानसिक संतुलन खो दिया,

हमने दुर्गा पूजा के अधिकार खो दिए, हमें बटुक को दूर भेजना पड़ा, हमें स्कोर करना होगा। वह आदमी से चंद्रचूर को इस तरह से दंडित करने के लिए कहता है कि वह मौत की भीख मांगता है

वह कहता है कि तुमने मुझसे पानी मांगा, ठीक है, मैं तुम्हें प्यासा कैसे छोड़ सकता हूं, पानी पी लो। उन्होंने चंद्रचूड़ का सिर पानी के टब में डुबो दिया।

अनिरुद्ध अपने कमरे में आता है। संपूर्णा कहती है कि दरवाजा बंद करने की क्या जल्दी है, शाश्वती आपसे मिलना चाहती है। वह कहता है नहीं, ठीक है, उसे बुलाओ। वह कहती है तुम्हारा चेहरा उदास हो गया, मैं उसे नहीं बुला रहा हूं,

अपनी पत्नी के साथ अकेले रहो, यह तुम दोनों के लिए एक खास रात है, बोंदिता की रात को खास बनाओ। अनिरुद्ध ने दरवाजा बंद कर दिया। घूंघट में बोंदिता कहते हैं… अच्छा, मैं अपनी दुल्हन का चेहरा देख लूंगा। बोंदिता उसे पहले कुछ शायरी करने के लिए कहती है।

वह कहती है कि मैं सोचूंगी। वो शायरी करता है मैं तेरी तक़दीर बन जाउंगी, तू मेरी तक़दीर बन जाएगी, मैं तेरी हद बन जाऊंगी, तू मेरी जिद, मैं तेरी नींद, तू मेरी सुबह बन जाए, तू और मैं एक-दूसरे में आ जाएं, तू मैं और मैं तुम बनो, अब मैं तुम्हारा चेहरा देख सकता हूं, बोंदिता। वह घूंघट के अंदर बर्तन देखता है।

Barrister Babu 12 October 2021 Written Update in Hindi

वह पूछता है कि तुम कहाँ हो, बोंदिता। बोंदिता मुस्कुराते हुए वहाँ आती है। वह पूछती है कि आप किसे ढूंढ रहे हैं। वह कहता है मैं आपको बताऊंगा। वह भागती है। वह उसे रोकने के लिए दौड़ा। वे बिस्तर पर गिर जाते हैं। माई तेरा दिल….नाटक… वे पास हो जाते हैं।

बटुक अपने दोस्तों के साथ पार्टी करते नजर आ रहे हैं। उसका दोस्त पूछता है कि क्या तुम उसके लिए गिर गए। बटुक हंसता है। वह कहते हैं मुझ पर प्यार का बोझ मत डालो, मैं यहां दिलों से खेलने आया हूं,

मैं सिर्फ अपने परिवार से प्यार करता हूं। उसका दोस्त कहता है मुझे पता है, भगवान ने आपके परिवार में दुनिया के सभी नायकों को भेजा है। बटुक का कहना है कि आप परिवार के सुपरहीरो को जानते हैं, वह अनिरुद्ध है। उसका दोस्त कहता है कि उसकी वजह से तुम्हारी चमक हल्की हो जाती है।

बटुक का कहना है कि वह एक बैरिस्टर है, मैं एक वकील हूं, मैं मुश्किल से गुजरा हूं, इसलिए मैंने इस पार्टी को रखा है। उसका दोस्त कहता है कि मुझे तुम्हारे लिए एक उपहार मिला है, यहीं रुको। उसे उपहार मिलता है। वह कहता है कि आप इसे प्यार करेंगे। बटुक तस्वीर की जाँच करता है।

वह कहता है मेरा परिवार, मैं अपने परिवार से प्यार करता हूं। वह बोंदिता को देखकर गुस्सा हो जाता है। वह उसकी तस्वीर दागता है। वह कहता है कि मुझे बोंदिता से नफरत है।

image Source & Credit : Voot

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close