Bhagya Lakshmi 6 September 2021 Written Update in Hindi : रानो और नेहा ने चुराया लक्ष्मी का हार
Bhagya Lakshmi 6 September 2021 Written Update in Hindi

Bhagya Lakshmi 6 September 2021 Written Update in Hindi

भाग्य लक्ष्मी 6 सितंबर 2021 एपिसोड : एपिसोड की शुरुआत सोनिया द्वारा करिश्मा से पूछती है कि कितनी रस्में बाकी हैं। वह कहती हैं कि अनुष्ठान खत्म होने के बाद वह कहीं भी जाने के लिए स्वतंत्र हैं। करिश्मा उसे जहां चाहती है वहां जाने के लिए कहती है, और कहती है कि रसम को तुम्हारी जरूरत नहीं है। सोनिया जाती है।

प्रीतम, रानो और अन्य लोग फंक्शन में आते हैं। बानी पूछती है कि क्या हम दी से मिल सकते हैं। वीरेंद्र कहते हैं हां, आप जा सकते हैं और नीलम से पूछ सकते हैं कि क्या वह जा सकती है।

नीलम ने सिर हिलाया। नेहा सोचती है कि अगर वह शादी कर लेती तो उसका रसम हो जाता। आयुष ने अपना परिचय बानी, शालू और नेहा से कराया।

वह पूछता है कि शालू कौन है? शालू कहता है मैं। आयुष कहता है तो आज तुमने मुझे फोन किया और बताया कि मैं क्या बताता अगर लक्ष्मी ने पूछा कि यह किसका फोन था? नेहा गिर जाती है और वह उसे पकड़ लेता है। बानी और शालू लक्ष्मी के पास जाते हैं और उसे गले लगाते हैं।

आयुष उन्हें अपनी बहनों के समय का आनंद लेने के लिए कहता है। नेहा सोचती है कि माँ ने मुझे यहाँ बेवजह भेजा है और सोचती है कि लक्ष्मी उससे पूछेगी कि वह मंडप पर क्यों बैठी और मैं उसके सिर पर वार करूँगा।

Watch : Bhagya Lakshmi 3 September 2021 Full Episode

Bhagya Lakshmi 6 September 2021 Written Update in Hindi

नीलम रानो से पूछती है कि तुम यहाँ क्या कर रही हो और उसे लक्ष्मी के पास जाने के लिए कहती है, क्योंकि उसने पुश्तैनी भारी हार पहनी थी जो बहुत महंगा है।

रानो पूछती है कि लक्ष्मी का कमरा कहाँ है। करिश्मा दिशा बताती हैं। रानो लक्ष्मी से मिलने जाती है। लक्ष्मी ने उसे गले लगा लिया। रानो का कहना है कि यह कमरा सुन्दर (भयानक) है और आप सुन्दर (सुंदर) दिख रहे हैं।

वे ऋषि के बारे में बात करते हैं। रानो ने वहां रखे हार को देखा और बताया कि उसकी अंगूठी कुछ गिर गई है। वह नेहा को बाहर ले जाती है और उसके साथ हार चुराने की योजना बनाती है और फिर उसे पर्स में छिपा देती है।

नेहा कहती है कि अगर लक्ष्मी नहीं पहनती तो क्या होगा। रानो बताती है कि वह अभिनय करेगी और नेहा को चोरी करने के लिए कहती है। वह लक्ष्मी से कहती है कि वह सुंदर दिख रही है। शालू सोचता है कि क्या बात है? अगर वह कुछ गलत करने जा रही है।

Bhagya Lakshmi 6 September 2021 Written Update in Hindi

शालू हार चुराने वाली नेहा की तरफ देखने ही वाली होती है। रानो बताता है कि तुम्हारे बाऊ जी मेरे सपने में आए और कहा कि मैंने लक्ष्मी की जिंदगी बदल दी है और मुझे धन्यवाद दिया।

वह कहती है कि उसे मोक्ष मिलेगा और मुझे उसकी बहुत याद आती है। वह कहती है कि मैं नारियल की तरह हूं, बाहर से सख्त, लेकिन अंदर से नरम। वह उससे माफी मांगती है।

लक्ष्मी कहती है कि तुम मुझे कुछ भी बता सकते हो। नेहा का कहना है कि मेरी तबीयत ठीक नहीं है। रानो बताती है कि वह खाली हाथ आई थी क्योंकि गुरुचरण ने उसे कोई आभूषण नहीं दिया था। नेहा उसे देने के लिए कहती है। रानो निकालने जा रहे हैं। लक्ष्मी कहती हैं कि मेरी मम्मी जी ने ज्वैलरी दी थी।

नौकर वहाँ आता है और लक्ष्मी को बुलाता है। लक्ष्मी बॉक्स खोलती है और हार की खोज करती है। रानो उसे पहनने के लिए कहती है। लक्ष्मी कहती है कि मैंने इसे यहाँ रखा है। वह कहती है कि यह अभी यहाँ नहीं है। रानो उन्हें हार खोजने के लिए कहता है और कहता है कि यह मिल जाएगा।

Bhagya Lakshmi 6 September 2021 Written Update in Hindi

करिश्मा, नीलम से मुह दीखाई रसम शुरू करने के लिए कहती है। नीलम ठीक कहती है। सोनिया ने आयुष को चिढ़ाया। आयुष पूछता है कि वह क्या कर रही है? सोनिया कहती हैं कि मैं देखना चाहता हूं कि बुआ क्या करेगी? आयुष उसे मेरे बारे में न बताने के लिए कहता है।

सोनिया उसका कार्ड मांगती है और उससे लिमिट के साथ खर्च करने को कहती है। नीलम सोनिया को लक्ष्मी लाने के लिए भेजती है। लक्ष्मी कहती है कि क्या मैं मम्मी जी को बता दूं कि वह एक और हार दे सकती है। शालू कहता है कि अगर किसी ने चोरी की है।

लक्ष्मी कहती हैं कि उनके घर में कौन चोरी करेगा। नेहा कहती है नौकर। सोनिया और अहाना वहां आती हैं और लक्ष्मी को आने के लिए कहती हैं। लक्ष्मी कहती हैं सिर्फ 5 मिनट। वह अपनी मां का हार पहनती है। अहाना सोनिया से पूछती है कि वह उसे अपने नाम से क्यों बुलाती है।

सोनिया का कहना है कि लक्ष्मी ऋषि के साथ मेल नहीं खाती। लक्ष्मी सिर ढक कर चली जाती है। रानो और नेहा ने हार को देखा और खुश हो गए। वे नीचे जाते हैं।

Bhagya Lakshmi 6 September 2021 Written Update in Hindi

लक्ष्मी बैठ जाती है और नीलम को यह बताने के लिए सोचती है कि उसने उसके द्वारा दिया गया हार नहीं पहना है। नीलम ने मेहमानों को आने के लिए धन्यवाद दिया। अतिथि महिलाएं लक्ष्मी का चेहरा देखती हैं और उनकी सुंदरता की तारीफ करती हैं।

करिश्मा सोचती है कि यह ड्रामा कब खत्म होगा, इसके खत्म होते ही मैं अपने कमरे में चली जाऊंगी। वह नीलम से पूछती है कि क्या वह इस औपचारिकता को पूरा कर सकती है।

नीलम ठीक कहती है। करिश्मा ने पर्दा उठाया और उसकी तरफ देखने लगी। लक्ष्मी कहती है कि मैंने वह हार नहीं पहना था …. करिश्मा नीलम से कहती है कि अगर वह उसे नहीं बताती है तो … वह नीलम से कहती है कि जो पैतृक हार आपको तुम्हारी माँ ने दी थी, वह लक्ष्मी ने नहीं पहनी है। नीलम उसका चेहरा देखती है और चौंक जाती है।

ZEE

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close