Saath Nibhana Saathiya 2 3 March 2022 Written Update in Hindi : गहना ने किया अनंत का अंतिम संस्कार
Saath Nibhana Saathiya 2 3 March 2022 Written Update in Hindi

Saath Nibhana Saathiya 2 3 March 2022 Written Update in Hindi

साथ निभाना साथिया 2 3 मार्च 2022 2022 एपिसोड : देसाई परिवार अनंत का अंतिम संस्कार करता है। पंडितजी कहते हैं कि यह अस्थि विसर्जन का समय है। पंकज बा से पूछते हैं कि बापूजी कहां हैं। बापूजी गहना के साथ प्रवेश करते हैं। गहना को देख परिजन सहम गए। गहना को याद है कि परिवार उसे अपमानित कर रहा था और उसके चरित्र पर सवाल उठा रहा था। कनक बापूजी से पूछते हैं कि वह यहां देशद्रोही क्यों लाए। बापूजी कहते हैं

कि गहना अनंत की पत्नी है। हेमा पूछती हैं कि इस मॉडर्न ड्रेस में वह किस एंगल में अनंत की खिड़की की तरह दिख रही हैं। गहना का कहना है कि उनकी सोच इतनी छोटी है कि वे अनंत के लिए उसकी भावनाओं को नहीं समझ सकते। बा ने गहना को अपमानित करने के लिए माफ़ी मांगी और कहा कि उन्हें अब एहसास हुआ कि जहां महिला का सम्मान नहीं किया जाता है, वहां भगवान नहीं रहता है;

उसने गहना को अपमानित करने के कारण अपने पुत्र को खो दिया और गहना के पैर पकड़ लिए। गहना उसे रोकती है और कहती है कि माँ अच्छा आशीर्वाद देती है। बा उसे गले लगा लिया।

कनक ने बा को रुकने के लिए कहा क्योंकि अनंत की हत्या के पीछे गहना का हाथ है। बापूजी उसे रोकते हैं और कहते हैं

कि गहना की वजह से अनंत के हत्यारे को गिरफ्तार कर लिया गया है। वह पूरी कहानी का वर्णन करता है और कहता है कि वे यहां अस्थि विसर्जन के लिए आए थे, लेकिन गहना ने अनंत को मुक्ति दिलाई।

Saath Nibhana Saathiya 2 3 March 2022 Written Update in Hindi

बा ने गहना से अस्थि विसर्जन करने और अनंत को मुक्ति देने का अनुरोध किया। गहना अनंत की राख को पानी में विसर्जित करती है और सोचती है कि वह जहां भी हो, उसे शांति से रहना चाहिए। बा उसे घर लौटने का अनुरोध करती है।

गहना इस बात से इनकार करती हैं कि घर अनंत की यादों से भरा है और उनमें उसी दर्द से गुजरने की हिम्मत नहीं है। बा उससे अनुरोध करती है कि वह उसे पश्चाताप करने दे और उसे अपनी बेटी के रूप में स्वीकार करे। गहना ने भावनात्मक रूप से उसे गले लगा लिया।

Saathiya 2  2 March 2022 Written Update in Hindi

डिंपी दादी आंखें खोलती हैं और राजू दादाजी को बुलाती हैं। दादाजी उसके पास दौड़े। दादी कबीर के बारे में पूछती है। दादा का कहना है कि कबीर अभी भी जेल में है। दादी काम्या/गहना को फोन करती है और उसे जल्द ही पुलिस स्टेशन जाने के लिए कहती है।

Saath Nibhana Saathiya 2 3 March 2022 Written Update in Hindi

काम्या ने यह कहते हुए इनकार कर दिया कि वह अनंतजी के हत्यारे से नहीं मिलना चाहती। दादी का कहना है कि कबीर वह नहीं है जिसे वह सोचती है और असली हत्यारा अभी भी खुला घूम रहा है, इसलिए उसे उससे एक बार मिलना चाहिए। दादाजी पूछते हैं कि क्या उन्हें लगता है कि काम्या पुलिस स्टेशन जाएगी।

देसाई के घर पर, बा गहना से पूछती है कि क्या वह कबीर की दादी से मिलेगी। गहना कहती है कि जब उस परिवार ने उसका घर बर्बाद कर दिया तो वह वहां कैसे जाएगी। बापूजी उसे अच्छा सोचने और निर्णय लेने के लिए कहते हैं।

कनक और हेमा ने गहना की ड्रेस खराब करके और खराब जूस परोस कर उसे परेशान करने की योजना बनाई और उसे घर से बाहर कर दिया। हेमा गेहना को जूस परोसती हैं, और कनक कहती हैं कि यह उनका कर्तव्य है

कि वे अपने मेहमान की सेवा करें। बापूजी कहते हैं कि उन्होंने बा के शब्दों को नहीं सुना कि गहना अब उनकी बेटी है और अतिथि नहीं है। कनक यह कहकर गहना को अपमानित करने की कोशिश करती है

कि उसने अनंत के अंतिम संस्कार की प्रतीक्षा नहीं की और उससे पहले उसके जीवन में एक और आदमी मिला। गहना ने उसे चेतावनी दी कि वह हस्तक्षेप न करे वरना वह पछताएगी। बापूजी कहते हैं कि गहना को आगे बढ़ने का अधिकार है। कनक माफी मांगती है

और उसे ठंडा जूस पीने और शांति से सोचने के लिए कहती है। बा ने गहना को कबीर की दादी से मिलने का सुझाव दिया क्योंकि वे किसी निर्दोष को दंडित करने के लिए नहीं हैं। गहना का कहना है कि कनक की जिद ने उसके संदेह को दूर कर दिया और कनक को रस खत्म करने के लिए मजबूर कर दिया।

Saath Nibhana Saathiya 2 3 March 2022 Written Update in Hindi

दादी कबीर से मिलती है। कबीर कहता है कि उसे चिंता करने की ज़रूरत नहीं है क्योंकि सिकंदर उसे जेल से बाहर निकाल देगा। दादी का कहना है कि अगर वह चाहते तो वह होता। कबीर कहते हैं कि वह जानती है कि वह एक कारण से कबीर बने हैं। दादी का कहना है कि वह उसी कारण से जेल में है। वह काम्या के बारे में पूछता है।

दादी का कहना है कि जेल पहुंचने से पहले उन्हें घर से निकाल दिया गया था। वह पूछता है कि क्या उसने उससे बात की। वह कहती है कि उसने उसे यहां आने के लिए कहा था, लेकिन वह नहीं जानती कि वह आएगी या नहीं। वह कहता है कि वह निश्चित रूप से करेगी। काम्या प्रवेश करती है और कहती है

कि उसका सच बाहर है और वह हमेशा के लिए सलाखों के पीछे रहेगा। कबीर उसे देखकर उत्साहित महसूस करता है। वह कहती है कि वह केवल दादी के लिए आई थी। उनका कहना है कि उनकी आंखें कुछ और ही बोलती हैं। वह कहती है कि वह एक हत्यारे के बारे में नहीं जानना चाहती।

Saath Nibhana Saathiya 2 3 March 2022 Written Update in Hindi

दादी का कहना है कि कबीर सैत एक हत्या है, न कि उसका पोता। काम्या कहती है कि वह कबीर के पाप को छिपा नहीं सकती।

दादी ने खुलासा किया कि उनका पोता सूर्य है न कि कबीर सैत। यह सुनकर गहना चौंक जाती है और पूछती है कि क्या हो रहा है। कबीर कहते हैं कि दादी अस्वस्थ हैं और बड़बड़ा रही हैं।

दादी कहती है कि वह ठीक है और उसे चेतावनी देती है कि वह उसे सच्चाई बताए वरना वह उसका मृत चेहरा देखेगा। काम्या पूछती है कि क्या सच है। दादी कहती हैं कि उनकी मासूम सूर्या के कबीर सैत बनने का सच।

Image Credit & Source :  Hotstar

Share this with Your friends :

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
close